उत्तर प्रदेश के प्रमुख उद्योग

उत्तर प्रदेश में कोयला, डोलोमाइट और रत्नों का पर्याप्त भंडार है। अन्य महत्वपूर्ण खनिजों में डायस्पोर, सल्फर, मैग्नेसाइट, पाइरोफलाइट, सिलिका सैंड और चूना पत्थर शामिल हैं।

0
115
Coal handling systems for major Uttar Pradesh power projects
Coal handling systems for major Uttar Pradesh power projects

उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़े औद्योगिक राज्यों में से है। यह भारत में सबसे अधिक आबादी वाले राज्यों में भी है। इसकी अधिकांश अर्थव्यवस्था कृषि पर निर्भर करती है।

सॉफ्टवेयर, इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर हार्डवेयर, रसायन, पत्थर उत्पाद, पीतल का काम, सुपारी, आलू आधारित उत्पाद, काली मिट्टी के बर्तन, हस्तकला की वस्तुएं, कला उत्पाद, आभूषण, हाथ से छपाई, चमड़े की वस्तुएं, सूती धागा, साड़ी, रेशम पोशाक सामग्री जैसी कई निर्यात-उन्मुख वस्तुएं उत्तर प्रदेश में बनाई जाती हैं।

राज्य का प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद 57,480 है।

कानपुर प्रदेश का सबसे अमीर शहर माना जाता है। डीएलएफ ग्रुप के चेयरमैन केपी सिंह 3.8 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ यूपी के सबसे अमीर व्यक्ति माने जाते हैं।

आरएसपीएल के संस्थापक मुरलीधर और बिमल ज्ञानचंदानी, यूपी के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं जिनकी अनुमानित कुल संपत्ति 1.2 बिलियन डॉलर है।

Agriculture of Uttar Pradesh
Agriculture of Uttar Pradesh

कृषि, पशुधन और मछली पालन

राष्ट्रीय खाद्यान्न भंडार में उत्तर प्रदेश का बहुत बड़ा योगदान है। गंगा के उपजाऊ क्षेत्रों और नहरों और ट्यूब-कुओं जैसे सिंचाई की सुविधा के कारण यह प्रदेश कृषि में काफी आगे है। लखीमपुर खीरी देश का जाना-माना चीनी उत्पादक जिला है। राज्य की अधिकांश आबादी खेती पर निर्भर करती है। गेहूं, चावल, दालें, तिलहन और आलू प्रमुख कृषि उत्पाद हैं। गन्ना पूरे राज्य में सबसे महत्वपूर्ण नकदी फसल है। राज्य में आम का उत्पादन भी किया जाता है।

भारत की कुल पशुधन आबादी का लगभग 15% अकेले उत्तर प्रदेश में मौजूद है। राज्य में झीलों, टैंकों, नदियों, नहरों, और नालों सहित लगभग 8,000 किमी जल क्षेत्र है। राज्य में मछली पकड़ने का क्षेत्र 2,000 वर्ग किमी से अधिक है और यहां 175 से अधिक प्रकार की मछलियां पायी जाती हैं।

Minerals & Heavy Industries of Uttar Pradesh
Minerals & Heavy Industries of Uttar Pradesh

खनिज और भारी उद्योग

उत्तर प्रदेश में कोयला, डोलोमाइट और रत्नों का पर्याप्त भंडार है। अन्य महत्वपूर्ण खनिजों में डायस्पोर, सल्फर, मैग्नेसाइट, पाइरोफलाइट, सिलिका सैंड और चूना पत्थर शामिल हैं। गाजियाबाद, गौतम बौद्ध नगर, कानपुर, लखनऊ, फैजाबाद, सोनभद्र, मिर्जापुर और बलरामपुर राज्य के सबसे अधिक विकसित औद्योगिक क्षेत्र हैं।

मथुरा में स्थित मथुरा रिफाइनरी उत्तर प्रदेश की एकमात्र तेल रिफाइनरी है, और भारत में 6वीं सबसे बड़ी तेल रिफाइनरी है।

Handloom and handicrafts of Uttar Pradesh
Handloom and handicrafts of Uttar Pradesh

हथकरघा और हस्तशिल्प

यूपी में हथकरघा और हस्तशिल्प आय का एक बहुत महत्वपूर्ण स्रोत है। बनारसी साड़ियों की पूरी भारत में एक खास पहचान है। राज्य में हजारों पावर लूम और हैंडलूम हैं, जिनमें से अधिकांश पूर्वी यूपी में स्थित हैं।

पूर्वी यूपी के मुख्य केंद्रों में टांडा, बनारस, आजमगढ़, भदोही, मऊ और मऊ आइमा शामिल हैं। पश्चिमी यूपी में कुछ महत्वपूर्ण केंद्र मेरठ और इटावा हैं। पूर्वी यूपी में, का टांडा शहर में 100,000 से अधिक बिजली करघे हैं। मुख्य उत्पादों में लुंगी, गमछा, स्टोल, अरबी रूमाल और अन्य परिधान शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश के प्रमुख शहर और वहाँ के उद्योग

  1. मिर्ज़ापुर के सीमेंट संयंत्र अपने उत्पादन की गुणवत्ता के कारण लोकप्रिय हैं।
  2. वाराणसी अपने कढ़ाई वाले वस्त्रों, हैंडलूम बुने के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। यह शहर डीजल इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव भी बनाता है।
  3. लखनऊ चिकन कढ़ाई का केंद्र है
  4. आगरा और कानपुर चमड़े और चमड़े के उत्पादों के प्रमुख उत्पादन केंद्र हैं।
  5. एशिया का प्रमुख सोना बाजार मेरठ में स्थित है। मेरठ संगीत वाद्ययंत्र और खेल से संबंधित वस्तुओं का बड़ा निर्यातक भी है।
  6. बुलंदशहर अपने खुर्जा पॉटरी के लिए पूरी दुनिया में लोकप्रिय है। यहाँ की पॉटरी कई देशों जैसे संयुक्त अरब अमीरात, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, यूएई आदि को निर्यात की जाती है।
  7. उत्तर प्रदेश का मुरादाबाद शहर अपने पीतल के काम के लिए विश्व स्तर पर लोकप्रिय है। इसकी हस्तकला की वस्तुएं पूरी दुनिया में निर्यात की जाती हैं। केवल पीतल ही नहीं, यह कई अन्य चीजों का उत्पादन भी कर रहा है जैसे कि लोहे की शीट मेटलवार, लकड़ी के काम, एल्यूमीनियम की कलाकृतियाँ, और कांच के बने पदार्थ।
  8. नोएडा HCL, बार्कलेज़, सैमसंग, एगिसेंट, CSC जैसी सॉफ्टवेयर और मोबाइल ऐप डेव्लपमेंट कंपनियों का केंद्र बन गया है। ये कंपनियां इस शहर की बढ़ती अर्थव्यवस्था में बहुत योगदान दे रही हैं।
  9. गाजियाबाद को मुख्य रूप से शैक्षिक और रियल एस्टेट हब के रूप में जाना जाता है। यह ऑटोमोबाइल, निर्माण, आईटी और इंजीनियरिंग सहित चिकित्सा उद्योगों का केंद्र भी है।
  10. आगरा अपने प्रमुख पर्यटक आकर्षण-ताज महल के लिए दुनिया भर में जाना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here